किसान हुंकार महारैली ने फेसबुक Live पर मचाया धमाल, 6 लाख से ज्यादा लोगों ने देखा, 42 हजार लोगों ने किया शेयर

हाईटेक प्रचार की बानगी देखने को मिली रविवार को सीकर में हुई किसान हुंकार महारैली में जिसका सोशल मीडिया के ज़रिये सीधा प्रसारण किया गया।

राजस्थान में चुनावी सरगर्मियां फिर तेज़ होने लगीं हैं। पहले उपचुनाव और फिर विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में सत्तासीन भाजपा और विपक्षी कांग्रेस दलों के साथ ही अन्य सियासी पार्टियां भी ज़ोर-शोर से इनकी तैयारियों में जुट गईं हैं। वहीं राजनितिक पार्टियों के उम्मीदवारों को चुनौती देने के लिए बतौर निर्दलीय ताल ठोकने वाले भी जोड़-तोड़ की रणनीति पर जुट गए हैं। लेकिन इन सब के बीच परम्परागत तरीके के बजाये अब हाईटेक तरीके से जनसम्पर्क करने के काम पर फोकस किया जा रहा है।
 

बेनीवाल की हुंकार रैली लाइव


हाईटेक प्रचार की बानगी देखने को मिली रविवार को सीकर में हुई किसान हुंकार महारैली में जिसका सोशल मीडिया के ज़रिये सीधा प्रसारण किया गया। खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल की ओर से बुलाई गई इस रैली को उन्हीं के ऑफिशियल फेसबुक पेज पर लाइव प्रसारित किया गया। ये लाइव प्रसारण करीब 5 घंटे का रहा। इस प्रसारण की सबसे ख़ास बात ये रही कि इस फेसबुक लाइव को 5 लाख 34 हज़ार व्यूज़ मिले। वहीं इस लाइव वीडियो की शेयररिंग भी जमकर हुई। इस प्रसारण को 40 हज़ार 445 यूज़र्स ने शेयर कर आगे बढ़ाया। 57 हजार यूजर्स ने लाइक तथा 91 यूजर्स ने कमेंट करके अपनी राय व्यक्त की।

दरअसल, हनुमान बेनीवाल का यह लाइव प्रसारण बार बार अटक रहा था। जिससे बेनीवाल समर्थकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। पहले लाइव वीडियो में रैली के अन्य वक्ताओं के भाषण रहे जो करीब 3 घंटे 46 मिनिट तक चलें। उसके बाद हनुमान बेनीवाल का भाषण लगभग 1 घंटे तक चला। इसके बाद फिर से अन्य वक्ताओं ने अपने विचार रैली के माध्यम से व्यक्त किए।

 

रैली में लगाए गए मल्टी-कैमरा सेट-अप, ड्रोन कैमरे
किसान हुंकार महारैली की कवरेज के लिए आयोजकों ने अपनी तरफ से सभा स्थल पर मल्टी-कैमरा सेट-अप लगाया था। वहीं रैली में शामिल होने पहुंचे लोगों की संख्या के विहंगम दृश्य की तस्वीरें कैद करने के लिए हाईटेक ड्रोन कैमरे भी लगाए गए थे। इन सभी का इस्तेमाल करते हुए सोशल मीडिया पर लाइव प्रसारण के साथ ही पल-पल का अपडेट किया जा रहा था।

सात लाख लोगों की संख्या का दावा

बेनिवाल ने मंच से दावा किया कि सीकर की ये रैली नागौर, बाड़मेर और बीकानेर की रैली से भी बड़ी रैली है और इसमें सात लाख लोग पहुंचे हैं। रैली में आगे के पांडाल भरे हुए थे और पीछे बिछात पर लोग आराम से बैठे थे। ड्रान कैमरे से भी इसके चित्र लिए गए। रैली को लेकर सुबह से भीड़ पहुंचने लगी थी और वाहनों को कई किलोमीटर दूर खड़ा किया गया था। पहले यहां 8-9 लाख लोगों के आने का दावा किया जा रहा था लेकिन रैली स्थल व सीकर के आस पास के इलाकों में कल देे रात तेज आंधी व बरसात के कारण कई बेनीवाल समर्थक रैली में आने से चुक गए। रैली के दौरान सभी भीडके संख्या बल को लेकर कयास लगाते नज़र आये।
 

भीड़ का आंकलन
– 7 लाख का हनुमान ने किया दावा
– 9 लाख की उम्मीद एक दिन पहले की गई थी
– 7 लाख के करीब के कयास रैली में लगते रहे

बेनीवाल ने आह्वान किया कि सीकर का किसान जिस दिशा में चलता है उसी दिशा में प्रदेश की राजनीति चलती है। आज किसानों ने बड़ी संख्या में सीकर से हुँकार भर कर ये साबित कर दिया है कि सरकार इस गलत फहमी में नही रहे की वो कुछ कर नही सकते। बल्कि किसान इसलिए चुप है कि वो कानून हाथ में नही लेना चाहते है। किसानों ने आज साइस प्रकार आज की इस हूंकार साबित कर दिया है कि हनुमान बेनीवाल उनके लिए पसीना बहाएंगे तो हनुमान को जरुरत पड़ने पर किसान उनके लिए खून बहा देंगे।

महारैली ने प्रदेश की राजनीति पर प्रश्न चिन्ह लगा दिया है, और ये भी तय हो गया है कि हनुमान जिसका साथ देंगे सरकार उन्हीं की बनेगी इसमें कोई शक नही है। उन्होने यह भी कहा कि वो किसी जाति विशेष के नेता नही है वो प्रदेश की छत्तीस कौम के नेता है किसान वर्ग के नेता है। उन्होंने यह भी कहा कि मिशन 2018 को पूर्ण करने के लिए अगले कदम के रूप में एक बड़ी रैली जयपुर में करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *