इसलिए ऐतिहासिक हुई थी गत वर्ष की किसान हुँकार महारैली नागौर

राज्य में फैली अराजकता, लचर कानून व्यवस्था, किसानों के विकास व उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए राज्य में किसी ठोस किसान निति के आभाव, VCR की आड़ में किसानों का शोषण और बेरोजगारों के साथ हो रहे अन्याय तथा कृषि कार्यों हेतु बिजली कनेक्शनों को नियमित करने, किसानों को उनकी खातेदारी के खननपट्टे देनें, समर्थन मूल्य पर किसानों की फसल खरीद करने और सड़को पर चलाये जा टोल को बंद करने की मांग सहित किसानों, युवाओं व बेरोजगारों की समस्या पर गंभीर चिंतन हेतु व आमजन के मुद्दों का त्वरित निदान करने व समस्यों के निस्तारण हेतु गत वर्ष 07 दिसम्बर को नागौर के राजकीय कॉलेज के पीछे स्थित मैदान में किसान हुँकार महारैली का आयोजन किया गया था।

 पंचायती राज स्थापना की पावन धरा नागौर से जिले सहित प्रदेश भर के किसानो और युवा वर्ग द्वारा भरी गयी हुँकार जनता के द्वारा चुनी हुई सरकार जो शासन संभालते ही लोकतंत्र के मूल्यों को भुलाकर और अंग्रेजी हुकूमत के नक्शे कदम पर चलने वाली सरकार को उसकी जिम्मेदारी का अहसास दिलाया गया था। इस किसान हुँकार महारैली में खिवंसर विधायक श्री हनुमान जी बेनीवाल के एक आह्वान पर प्रदेश के 5 लाख से अधिक शोषित, दलित, पीड़ित,अल्पसंख्यक, मजदूर, किसानों व जवानों का हुजूम उमड़ पड़ा था 07 दिसम्बर 2017 को नागौर के चप्पे चप्पे पर केंद्र व राज्य सरकार की कड़ी नज़र थी। हनुमान बेनीवाल की इस किसान हुँकार महारैली में उमड़े भारी जनसैलाब से प्रदेश के साथ केंद्र के कई कांग्रेस व बीजेपी के कई नेताओ की नींद तक हराम हो गई थी और किसान हुँकार महारैली नागौर की खास बात ये हे की रैली में पधारे हुए सभी 5 लाख किसान व जवान स्वयं अपने अपने वाहनों से रैली में पधारे थे।       

और अब 7 जनवरी को होगी किसान हुँकार महारैली – 2 बाड़मेर 
 

किसान हुँकार महारैली नागौर में 5 लाख जवानों व किसानो द्वारा भरी गई हुँकार से भी जब प्रदेश की गूंगी बहरी सरकार होश में नहीं आई तो खिवंसर विधायक हनुमान बेनीवाल ने सरकार के कान में तेल डालने के लिए पुनः ठीक एक वर्ष बाद थार नगरी बाड़मेर से प्रदेश के लाखों किसानो व जवानों को साथ लेकर 7 जनवरी 2018 को हुँकार भरने का एलान कर दिया। 

थार नगरी बाड़मेर सहित जालौर, जैसलमेर, सिरोही, पाली व जोधपुर में जवानों व किसानो का हनुमान बेनीवाल के प्रति उत्साह व जोश को देखते हुए ये अनुमान लगाया जा सकता हे की बाड़मेर की किसान हुँकार महारैली – 2 में 8 लाख से अधिक शोषित, दलित, अल्पसंख्यक, किसानों व जवानों का जन सैलाब उमडेगा। और यह किसान हुँकार महा रैली – 2 बाड़मेर आजादी से लेकर अब तक की राजस्थान की सबसे बड़ी रैली भी हो सकती हैं  

साथ ही हनुमान जी बेनीवाल की किसान हुँकार महारैली – 2 से जुडी पल पल की ख़बरें तुरंत जानने के लिए आप निचे दिए गए हनुमान जी बेनीवाल के Offical Facebook, Twitter और YouTube Account से जुड़ सकते हैं 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *