विधान सभा के सवालों के मामले में भी हनुमान बेनीवाल सबसे आगे

हनुमान बेनीवाल ने ध्यानाकर्षण प्रस्ताव 186 बार रखा :-

विधान सभा में जनता के चुने हुए प्रतिनिधि अपने क्षेत्र  की समस्यों को सरकार के समक्ष उठाते हें और उन पर जनहित के पक्ष में कारवाही होती हें। विधायक को जनहित से जुड़े प्रशन पूछने और संबधित मंत्री से जवाब लेने के आलावा प्रक्रिया के तहत कई विशेष आधिकार प्राप्त हें, इन आधिकारो का कई विधायक बखूबी इस्तेमाल करते हें तो कई विधायक चुप्पी साध लेते हें, जिसका खामियाजा विधान सभा क्षेत्र की जनता को भुगतना पड़ता हें।  सूचना के आधिकार के तहत विधान सभा सचिव से ली गयी जानकारी में नागौर जिले के विधायको का चौकानें वाला प्रदर्शन सामने आया हें। यहाँ एक निर्दलीय विधायक जिले के सभी विधायकों से आधिक हर तरह के मुद्दे उठाने में कही आगे हें। विधान सभा में प्रशनो के आलावा विभिन्न प्रस्तावों से क्षेत्र के मुद्दे उठाने में खिवसर विधायक हनुमान बेनीवाल सबसे आगे हें ।

बेनीवाल ने 14विं विधान सभा के 6 सत्रों में आब तक कुल 42 बार स्थगन प्रस्ताव व 186 बार ध्यानाकर्षण प्रस्ताव सदन में पेश कर चुके हें। नावां विधायक विजय सिंह 15 ध्यानाकर्षण, जायल विधायक 5, लाडनुं विधायक 3, परबतसर, मकराना व मेड़ता विधायक ने 2 बार ध्यानाकर्षण प्रस्ताव सदन में रखा। नागौर विधायक हबीबुरहमान ने मात्र एक ही ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के जरिये मुद्दा उठाया।

इस गणना के हिसाब से सभी विधायकों द्वारा उठाये गए कुल मुद्दों का कुल योग भी बेनीवाल के आंकड़ो के आसपास भी नहीं पहुचता।

hanuman beniwal photo
Hanuman Beniwal Vidhan Sabha Photo

विधान सभा में इस तरह से उठाते हे मुद्दे :-

विधान सभा में विभिन्न प्रकीयाओं के तहत विधायक मुद्दे उठाते हें। वे सदन में तारांकित, अतारांकित व अंतः सत्रीय सवाल उठा सकते हें। तारांकित सवाल में वे मौखिक सवालों  के साथ ही मंत्री के जवाब के बाद पूरक प्रशन भी पुछ  सकते हें। वही अतारांकित सवालों के जवाब लिखित में दिए जाते हें। इसके अलावा जब सदन नहीं चल रहा हो तब वे अंतः सत्रीय सवाल भी पूछ सकते हें जिनका जवाब उन्हें भेज दिया जाता हें।

 

प्रशन उठाने में भी खिवंसर विधायक हनुमान बेनीवाल  सबसे आगे :-

विधान सभा में तारांकित व अतारांकित प्रशनो के माध्यम से मुद्दे उठाने में भी विधायक हनुमान बेनीवाल आगे रहे। उन्होंने अब तक कुल 139 तारांकित व 201 अतारांकित सवाल पूछें हें।

 

लोकहित के मुद्दों पर लाये जा सकते हे ये प्रस्ताव :-

सदन में लोक हित  से जुड़े विशेष मुद्दें उठाने के लिए विधायको को विशेष अधिकार प्राप्त हें, इसके लिए वे स्थगन प्रस्ताव व ध्यानाकर्षण प्रस्ताव लाकर सदन का ध्यान खिंच सकते हें। एक बैठक में सदस्य एक        स्थगन व दो ध्यानाकर्षण प्रस्ताव ला सकते हें। स्थगन प्रस्ताव में विधान सभा की कारवाही रोक कर मुद्दे को गंभीरता से सुना जाता हे। वही ध्यानाकर्षण में सदस्य मंत्री व सदन का ध्यान आकर्षण करते हें।   इसकी आज्ञा उन्हें विधान सभा अध्यक्ष देते हें।

mla hanuman beniwal
Hanuman Beniwal Photo

 

यूँ कारगार हुआ हे हनुमान जी बेनीवाल का ध्यानाकर्षण प्रस्ताव :-

विधान सभा में जरुरी मुद्दों को ध्यानाकर्षण के जरिये उठाने पर मामला सदन के सामूहिक संज्ञान  में आता हें और उस पर त्वरित कारवाही होती हें। ईनाणा गाव में बसों के ठहराव की मांग पर खिवंसर विधायक हनुमान बेनीवाल द्वारा ध्यानाकर्षण पेश करते ही ईनाणा में बसों का ठहराव हो गया था। वही भ्रष्टाचार के मुद्दें पर हनुमान बेनीवाल के ध्यानाकर्षण पर जोधपुर के तत्कालीन जिला रसद अधिकारी को एपीओ कर जाँच शुरू हुई थी।

3 thoughts on “विधान सभा के सवालों के मामले में भी हनुमान बेनीवाल सबसे आगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *