न कांग्रेस में जायेंगे ना बीजेपी में, प्रदेश में तिसरा मोर्चा लाएगें – हनुमान बेनीवाल

आज खिवंसर विधायक हनुमान बेनीवाल बिकानेर जिले के तुफानी दौरे पर रहें। इस दौरान विधायक बेनीवाल ने पहले बिकानेर कृषि मंडी में चाहर & गोदारा र्टैंडिग कम्पनी के उद्धाटन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की। इसके पश्चात विधायक बेनीवाल ने बिकानेर सर्किट हाउस में प्रैस वार्ता को संबोधित किया। प्रैस वार्ता को संबोधित करते हुए विधायक बेनीवाल ने बाड़मेर, बिकानेर व सीकर में होने वाली किसान हुंकार महारैली व प्रदेश में जल्द तिसरे मोर्चे की घोषणा करने सहित किसानों व जवानों के अनेक मुद्दों पर कांग्रेस व बीजेपी को जमकर कोसा।

 

केवल 50,000 नहीं सम्पुर्ण कर्ज माफी हो

प्रैस वार्ता को संबोधित करते हुए विधायक बेनीवाल ने किसानों के कर्ज माफी पर राज्य सरकार को घेरते हुए बताया कि हमने नागौर किसान हुंकार महारैली में प्रदेश के किसानों के सम्पुर्ण कर्ज माफी की मांग की थी लेकिन सरकार ने 50,000 का कर्ज माफ करके किसानों को धोखा दिया है। और साथ ही विधायक बेनीवाल ने कहा कि किसान आन्दोलन के समय किसानो ओर सरकार की वार्ता होने के बाद सैकड़ों निर्दोष किसानों पर झुठे मुकदमे भी दर्ज किए गए जिन पर सरकार को तुरंत प्रभाव से FR देकर अन्तिम रिपोर्ट जल्द पेश करनी चाहिए।

 

 

नवम्बर में होगी किसान हुंकार महारैली -2 बाड़मेर

विधायक बेनीवाल ने प्रैस वार्ता को संबोधित करते हुए बताया कि प्रदेश के किसानों के सम्पुर्ण कर्जा‌ माफी, मुफ्त बिजली, टोल मुक्त राजस्थान और 5 लाख जवानों को रोजगार दिलाने की मांग को लेकर गत mदिसंबर में नागौर जिला मुख्यालय पर एतिहासिक किसान हुंकार महारैली का आयोजन किया था। और अब आगामी नवंबर में बाड़मेर जिला मुख्यालय पर पुनः 5 लाख जवानों व किसानों के साथ किसान हुंकार महारैली -2 का आयोजन किया जाएगा। उसके बाद दिसम्बर में बिकानेर, जनवरी में सीकर ओर मार्च में 10 लाख जवानों व किसानों के साथ राजधानी का घेराव करेंगे। और इस राजधानी घेराव के साथ ही जयपुर में किरोड़ी लाल जी मीणाघनश्याम तिवाड़ी को साथ लेकर प्रदेश में तिसरे मोर्चे की घोषणा कर देंगे। और आगामी विधानसभा चुनाव में तिसरा मोर्चा प्रदेश की सभी 200 विधानसभा सिटों पर चुनाव लड़ेगा।

 

 

न बीजेपी में जायेंगे और ना ही कांग्रेस में – हनुमान बेनीवाल

प्रैस वार्ता को संबोधित करते हुए विधायक बेनीवाल ने कांग्रेस व बीजेपी में शामिल होने के मुद्दे पर कटाक्ष करते हुए कहा कि दोनों ही पार्टियां 70 वर्षों से किसानों का शोषण करती हुई आ रही हैं। राजस्थान के लिए कांग्रेस सांपनाथ है तो बीजेपी नागनाथ हैं। ऐसी पार्टियों के साथ समझोता करके राजनीति करनी होती तो आज मैं भी सरकार में मंत्री होता लेकिन किसान व जवान विरोधी पार्टी में हनुमान बेनीवाल का दम घुटता है इसलिए अकेले ही प्रदेश के किसानों व जवानों की सेवा करने के निकल पड़ा हुं।

 

One thought on “न कांग्रेस में जायेंगे ना बीजेपी में, प्रदेश में तिसरा मोर्चा लाएगें – हनुमान बेनीवाल

  • September 22, 2017 at 6:31 AM
    Permalink

    हनुमानजी बेनीवाल की भूमिका एक दबंग, जुजारूपन और कर्तव्यनिष्ठ नेता की है । पद लोलुपता का लेप शुरू से ही लगने ही नहीं दिया । समस्याओं का अम्बार है सरकार घोर अपराध प्रवृत्ति के लोगों से घिरी हुई है । आम जनता परेशान है सरकार को उससे कोई सरोकार नहीं है । हर बार इनका ऊल्लू सीधा हो जाता था क्योंकि एक पार्टी से रूष्ट होकर दूसरी की जाजम पर विराज जाते । अबकी बार ऐसा नहीं होने वाला है । ढगा हुआ किसान बार-बार ठगने वाला नहीं है । नया नेतृत्व मिल गया है । संघर्ष करके हाशिल करने की ललक जग गयी है । अब तो पीछे मुड़कर झाकनें का सवाल ही नहीं है । जवानों का, किसानों का आंदोलन है यह कोई जातिगत समीकरण नहीं है । मंच साझा होगा तो पक्के साझेदार से ही, जो जवानों और किसानों की समस्याओं का बीड़ा उठायेगा । फ्यूज बल्ब दुबारा रोशनी नहीं देगा । जवानों में जोश है, जूनून है, नव राजस्थान सृजन की आतुरता है और सर्व साधारण को मान्य झुझारू नेता हाजिर है । अंदाज मतवाले है क्योंकि बीड़ा उठाया है जायज मांगों का जिससे आम जनता परेशानी उठाती है । उनके समाधानों की राह दिख रही तीसरे मोर्चे के पैरोकारों में । जय जवान । जय किसान । जिन्दाबाद ।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *